उत्तर प्रदेश

नगर में भिखारियों की भरमार से राहगीर बस टेंपो यात्री परेशान

नगर में भिखारियों की भरमार से राहगीर बस टेंपो यात्री परेशान

चोपन (संवाददाताअशोक मद्धेशिया)पूरे मुख्य नगर मेंअनलॉक डाउन 1के मद्देनजर जहां पूरे भारत देश मे कोविड-19 के संक्रमण की संख्या मे लगातार इजाफा हो रहा है जिसे रोकपाना सरकारों के लिए एक चुनौती सा बनता जा रहा है लगातार संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है लोगों से शोसल डिस्टेंस के पालन के लिए लगातार जागरूकता अभियान जारी है बावजूद इसके सारी जागरूकता धरी की धरी रह जा रही है जिसका जिता जागता उदाहरण नगर के मुख्य मार्ग पर प्रत्येक दिन सुबह से लेकर शाम तक भिखारियों द्वारा भीख मांगने के दौरान सोशल डिस्टेसिग को दरकिनार कर जितनी भी गाड़ियां मुख्य मार्ग पर रूकती है वहां दर्जनों की संख्या मे छोटे छोटे बच्चों को लेकर महिलाओं द्वारा गाड़ी को घेर लिया जाता है और जब तक कुछ पैसे ले न ले तब तक परेशान करती रहती हैं साथ ही शोसल डिस्टेंस का पालन कराने को लेकर जहां राजगीर यात्री तटस्थ हैं वहीं इन लोगों के द्वारा मुख्य बाजार बस स्टैंड दुकानों के सामने राजगीर यात्री को भी परेशान किया जाता है अब समस्या इस बात की है कोविड -19से रोकथाम हेतु इनसे कैसे बचा जाय। वही व्यापार मंडल अध्यक्ष संजय जैन ने पुलिस प्रशासन का ध्यान इस ओर आकृष्ट कराते हुए सार्थक कदम उठाने की मांग की है मजे की बात यह है कि आज सोमवार चोपन साप्ताहिक बंदी है फिर भी यहां पर राशन कपड़े की दुकान हार्डवेयर खुले हैं इस पर भी चोपन व्यापार मंडल अध्यक्ष सोनी जैन  को ध्यान देना चाहिए और स्थानीय दुकानदारों से निवेदन करना चाहिए कि साप्ताहिक बंदी के दिन आप सभी लोग अपनी प्रतिष्ठान बंद रखें लेकिन इस पर ध्यान नहीं देते हुए उन्होंने सिर्फ भिखारियों पर ध्यान दिया यहां यह बहुत ही हास्यप्रद लग रहा है गरीबों को भी जीने हक है वह

भिखारी है तो भीख ही मांग मांगेंगे पहले खुद सभी व्यापारी सही है फिर दूसरों के लिए प्रशासन से आवाज लगाएं इस पर श्रम विभाग को भी ध्यान देना चाहिए पूरे चोपन में अक्षर साप्ताहिक बंदी के दिन सोमवार को दुकानें खुली पाई जाती है मगर श्रम विभाग भी सोया हुआ है ताकि कोविड-19 संक्रमण के बढ़ते हुए प्रकोप से नगर सुरक्षित रह सके।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button