उत्तर प्रदेश

किसान आन्दोलन को लाठियो बन्दूको से दबाया नही जा सकता-अविनाश कुशवाहा

किसान आन्दोलन को लाठियो बन्दूको से दबाया नही जा सकता-अविनाश कुशवाहा
-:सपा के किसान पद यात्रा कार्यक्रम के दौरान दिनभर हलकान रही पुलिस
-:सपा नेताओं को भोर से ही घरो में नजर बन्द किया गया
-:रोक के बावजूद सफल रहे सपाई, लुका छिपी का खेल चलता रहा
सोनभद्र:समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के आहवान पर किसान बिल के विरोध में विगत दस दिनों से किसानो के राष्ट्रव्यापारी हड़ताल के समर्थन में किसान पद यात्रा कार्यक्रम के दौरान सोमवार को पूरे जनपद में व्यापक स्तर पर नेताओं की गिरफ्तारियां की गयी एवं वरिष्ठ नेताओ को उनके आवास पर ही जनर बंद कर दिया गया। घरो के बाहर बैरिकेटिगं कर भारी पुलिस बल तैनात की गयी है। सभी प्रमुख मार्गो पर कड़ी निगरानी कर किसान पद यात्रा को रोकने का प्रयास किया गया परन्तु सपा कार्यकर्ता गुरिल्ला की तरह जगह-जगह पद यात्रा, ट्रैक्टर यात्रा एवं बाइक जुलुस निकाल ने में सफल रहें। जिन्हे गिरफ्तार कर पुलिस थानो में लाया गया। जिला मुख्यालय पर भोर से ही कार्यकर्ताओ को घर से पुलिस गिरफ्तार एवं नजर बंद करने लगी रही।
पूर्व सदर विधायक अविनाश कुशवाहा को उनके कर घर पर ही नजर बंद कर दिया गया खबर सुनकर कार्यकर्ताओं का हुजूम उनके आवास पर पहुॅच गया जहां पुलिस को काफी मशक्कत का सामना करना पड़ा। कार्यकर्ता किसान पद यात्रा निकालने पर अड़े रहे। इस अवसर पर उन्होने कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि जब धरा पर किसान न होगा तो जिवित इन्सान न होगा। किसानों के खेती को कार्पोरेट घरानों का गुलाम बनाने वाले काले कानून का विरोध करना हमारा मौलिक अधिकार है जिसे पूरे देश में आपात कालीन स्थिति पैदाकर कुचलने का कुत्सित प्रयास कर हिटलर नाजी की परम्परा विकसित कर केन्द्र एवं प्रदेश की सरकार लोकतन्त्र की हत्या करने पर अमादा है। अन्नदाताओं की आवाज को लाठियों एवं गोलियों से दबाया जा रहा है। जिससे पूरे राष्ट्र को आन्दोलन की आग में झोकने को मजबूर किया जा रहा है। उन्होने कार्यकर्ताओं को धैर्य बनाकर पद यात्रा निकालने की बात की तथा कहा कि पूरे देश में अघोषित आपातकाल लगाया गया है। ‘‘ जुल्मी जब-जब जुलम करेगा सत्ता के गलियारों से चप्पा-चप्पा गंूज उठेगा इन्कलाब के नारों से ’’ सरकारे जितना जनान्दोलन को दबाने का प्रयास करेगी आन्दोलन की धार और बढ़ती जायेगी। हम आखिरी दम तक किसानों के आन्दोलन के साथ रहेगे। ओबरा में सपा जिलाध्यक्ष विजय यादव, जिलाउपाध्यक्ष रमेश यादव, नगर अध्यक्ष विपिन सिंह कश्यप समेत दर्जनो कार्यकर्ताओं को घर से ही गिरफ्तार कर लिया गया, नगवा में अरूण वर्मा, अशोक जायसवाल समेत दर्जनों कार्यकर्ता ने पद यात्रा निकाल कर किसान बिल का विरोध किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button