उत्तर प्रदेश

जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने चार न्याय पंचायतों के परिषदीय विद्यालयों में पठन सामग्री व साहित्यिक सामग्री का किया वितरण

 

घोरावल(पी डी)सोनभद्र:कोरोना महामारी में बच्चे विद्यालय तक नहीं पहुंच रहे हैं लेकिन सरकार प्रदेश को प्रेरक बनाने में कोई कोर कसर नहीं रखना चाहती है। प्रदेश स्तर से ही के पी आई अर्थ अर्थात की परफारमेंस इंडेक्स सभी प्रेरणा सारथियों का तय किया जा रहा है। व तमाम साहित्यिक सामग्री राज्य परियोजना कार्यालय से ही विद्यालयों हेतु प्रेषित किया जा रहा है। केवल एक लक्ष्य है हर विद्यालय को प्रेरक बनाते हुए उत्तर प्रदेश को प्रेरक प्रदेश बनाना है। इसी सूत्र वाक्य को ध्यान में रखते हुये उसी के क्रम में रीडिंग बुक सहज 1, 2, 3 , शिक्षक डायरी प्रेरणा लक्ष्य, प्रेरणा सूची ,प्रेरणा तालिका विद्यालयों तक पहुंचाया जा रहा है। नए वर्ष के प्रथम दिन बेसिक शिक्षा विभाग जनपद के मुखिया डॉ गोरखनाथ पटेल ने शिक्षा क्षेत्र घोरावल में समस्त साहित्यिक सामग्री का वितरण करके ,प्रेरक जनपद बनाने के क्रम में एक कदम बढाकर शुभारंभ किया। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने प्राथमिक विद्यालय ओड़हथा , प्राथमिक विद्यालय अमउड, प्राथमिक विद्यालय बरवा में अपने हाथों से इसे वितरित किया। ब्लाक संसाधन केंद्र घोरावल के परिसर से खंड शिक्षा अधिकारी के नेतृत्व में न्याय पंचायत आमडीह,बिसरेखी ,तिलौली व लहास के सभी विद्यालयों को वितरित किया गया। खण्ड शिक्षा अधिकारी ने सभी विद्यालयों से इस बात की अपील की मिशन प्रेरणा के साहित्यिक सामग्री को निर्धारित स्थान पर लगाकर नये वर्ष में प्रेरणालक्ष्यों को प्राप्त कर विकास खंड घोरावल को प्रेरक ब्लाक बनाने हेतु नयी उर्जा से जुट जाएं।इस अवसर पर राज्यसंदर्भदाता समूह के सदस्य संजय मिश्रा ,बिनोद कुमार एआरपी अखिलेश ,दीनबन्धु त्रिपाठी व अविनाश शुक्ला आदि लोग उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button