उत्तर प्रदेश

आरोपितों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज न होने के कारण ग्रामीणों ने कलेक्ट्रेट में किया प्रदर्शन

सोनभद्र : सदर ब्लाक के महुआंव कला गांव में कुछ दिनों पूर्व एक युवक को मारपीट कर मौत के घाट उतारे जाने के बाद पुलिस की तरफ से आरोपितों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज न किए जाने का आरोप लगाते हुए शुक्रवार को स्वजनों ने ग्रामीणों के साथ कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन किया। चोपन पुलिस पर आरोपितों को बचाने का आरोप लगाया। चेतावनी दी अगर शीघ्र ही दोषियों पर कार्रवाई नहीं हुई तो उग्र आंदोलन किया जाएगा।

महुआंव कला निवासी रामचंद्र ने आरोप लगाया कि उसका पुत्र शिवकुमार किसी काम से मारकुंडी गया था। शाम को वह घर आया तो गांव के करीब आधा दर्जन लोगों ने उसे अकेला पाकर घर के अंदर बंद करने के बाद लाठी-डंडे से मारपीट कर मौत के घाट उतार दिया। पुत्र की हत्या करने के बाद सभी आरोपित फरार चल रहे हैं। मृतक के भाई रविशंकर ने बताया कि चोपन थाने में जब आरोपितों के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराने के लिए जा रहे तो पुलिस उल्टा हम लोगों को ही धमकी देते हुए भगा दे रही हैं। कहा कि पुलिस आरोपितों को बचाने का काम कर रही है। स्वजनों व ग्रामीणों ने डीएम को दिए पत्र में आरोपितों पर शीघ्र ही कार्रवाई किए जाने की मांग की। कहा कि अगर आरोपितों के खिलाफ पुलिस प्रशासन की तरफ से कोई कार्रवाई नहीं की गई तो उग्र आंदोलन करने के लिए बाध्य होंगे। इस मौके पर शिवकुमार, बाल्मिकी, रविशंकर, सीता, गीता, अनिता, बासमती, आशा देवी, आरती, अंकित आदि प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button