उत्तर प्रदेशसोनभद्र

तिरंगे में लिपटी श्रवन का शव पहचा गांव

श्रावण कुमार राम 81बाटालियन 2013 बैंच के जवान थे श्रवण अपने कैंप में इलेक्ट्रिशियन का कार्य देख रेख करते थे

राकेश केशरी,

विंढमगंज सोनभद्र थाना बार्डर से लगभग 4 किलोमीटर दुर सटे झारखंड के गढ़वा जिला धुरकी थाना अंतर्गत ब्लाक सगमा निवासी तेलंगाना में पोस्टेड सीआरपीएफ जवान श्रवण कुमार राम का शव 48 घंटे बाद बीते मंगलवार को देर शाम पैतृक गांव पुतुर लाया गया जानकारी के अनुसार श्रवन कुमार राम की मौत बीते रविवार को मध्य रात्रि बिजली करंट लगने से तेलंगाना कैंप में हो गया मृतक श्रवण धुरकी थाना क्षेत्र के सोनडीहा गांव के रहने वाले हैं। श्रावण कुमार राम 81बाटालियन 2013 बैंच के जवान थे श्रवण अपने कैंप में इलेक्ट्रिशियन का कार्य देख रेख करते थे। इसी दौरान बीते रविवार को मध्य रात्रि बिजली करंट के चपेट में आ जाने से श्रवन गंभीर रूप से घायल हो गए घायल अवस्था में उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया श्रवन का शव हैदराबाद से फ्लाइट से झारखंड की राजधानी रांची लाया गया। इसके बाद रांची से एम्बुलेंस के माध्यम से सड़क मार्ग से उनके शव को घर लाया गया

तिरंगे में लिपटी श्रवन का शव पहचा गांव

सोनडीहा गांव की माटी में जन्मे श्रवन कुमार राम का शव तिरंगे में लिपटे गांव में आने के साथ ही सोनडीहा गांव सहित पुरे ब्लाक के लोगों के चेहरे पर उसकी शहादत को लेकर गर्व का भाव दिख रहा था लेकिन जैसे ही शहीद का पार्थिव शरीर गांव पहुंचा वैसे ही कोहराम मच गया। हर किसी की आंखें नम हो गई। घर से दूर रखे शव पर प्रशासन से लेकर ग्रामीणों ने पुष्प अर्पित किया। अंतिम संस्कार के लिए जब शवयात्रा निकाली गई तो भारत माता की जय , श्रवन कुमार राम अमर रहें का नारे से पूरा क्षेत्र गूंज उठा। श्रवन का अंतिम संस्कार मरिया नंदी में किया गया मुखाग्नि श्रवन कुमार राम का चार वर्षीय पुत्र आदित्य रंजन ने दी

सुबह से ही लोग शव का करते रहे इंतजार

तेलंगाना में शहीद श्रवन का शव आने की सुचना पर गांव सहित पुरे ब्लाक के लोगों ने शव आने का इंतजार करते रहे लोगों के बीच सुबह से ही क्षेत्र की महिला, पुरुषों के अंदर आपार दुःख तो था ही लेकिन अपने क्षेत्र का लाडला देश के लिए अपने को समर्पित कर दिया, इस पर गर्व करते नजर आ रहे थे वहीं गाव की हर महिलाओं की आंखें नम दिखीं। मौके पर सैकड़ों ग्रामीण जनता के साथ साथ दर्जनों जनप्रतिनिधि के अलावा सेना के पुलिस बल के साथ साथ धुरकी थाना प्रभारी सदानंद कुमार धुरकी पुलिस बल के साथ मौजूद थे

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button