सोनभद्र

जेईई मेंस में स्थान बना लेनिन शेंडे ने सिंगरौली का बढ़ाया मान।

 

जिले के पूर्व एडिशनल एसपी प्रदीप शेंडे की बेटी हैं लेनिन शेंडे।

उमेश सागर ऊर्जांचल ब्यूरो

उर्जान्चल। “कौन कहता है आसमां में सुराख नही होता, एक पत्थर तो तबियत से उछालो यारों”। इस लाइन को चरितार्थ करते हुए डीपीएस विंध्यनगर की छात्रा लेनिन शेंडे ने हाल ही में जारी जेईई मेंस में स्थान बना जिले व अपने माता-पिता का मान बढ़ाया है। हालांकि डीपीएस विंध्यनगर के कुल 16 छात्रों ने जेईई मेंस में सफलता प्राप्त की है। लेकिन लेनिन शेंडे की चर्चा होना इसलिए अहम है कि पिता के जिले से बाहर तबादला होने से उहापोह के बीच कोरोना महामारी में ऑनलाइन तैयारी कर सफलता अर्जित करना बड़ी बात है। बेटी की इस कामयाबी पर माता-पिता फूले नहीं समा रहे हैं। सगे संबंधियों और मित्रों ने फोन पर लेनिन शेंडे को कामयाबी पर बधाई दी।

लेनिन शेंडे ने अपनी सफलता का श्रेय पिता आईपीएस प्रदीप शेंडे, मां डॉक्टर अनुपम शेंडे और अपने अध्यापक को दिया। वर्तमान में लेनिन शेंडे के पिता सागर जिले में एसपी अजाक के दायित्व का निर्वहन कर रहे हैं और बच्चों के शिक्षा के लिए माँ सिंगरौली में साथ रहती हैं। बच्चों के शिक्षा के लिए डॉक्टरी पेशे को छोड़ गृहिणी के रूप में निरंतर बच्चों के शिक्षा को प्राथमिकता देने वाली माँ का योगदान भी किसी प्रेरणा से कम नही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button