सोनभद्र

कोयला परिवहन से लगने वाले जाम व प्रदूषण के खिलाफ ग्रामीणों ने तय की रणनीति।

 

उमेश सागर ऊर्जांचल ब्यूरो

शक्तिनगर। एनसीएल दुद्धीचुआ परियोजना से हो रहे कोयला परिवहन के कारण शक्तिनगर जयंत मुख्य मार्ग पर आए दिन लगने वाले जाम व प्रदूषण से परेशान अंबेडकर नगर वासियों व व्यापारियों ने आम बैठक कर निर्णय लिया कि सोमवार को सुबह 11:00 बजे शक्तिनगर थाना प्रभारी व एनसीएल दूधिचुआ मुख्य महाप्रबंधक को ज्ञापन सौंपा जाएगा। जिसमें मुख्य मार्ग पर पानी के छिड़काव, सड़क किनारे हाईवा खड़ी करने की मनाही, सड़क चौड़ीकरण व हाईवा की गति नियंत्रित करने आदि संबंधित मांगों पर 72 घंटों में विचार नहीं किया जाता है तो अंबेडकरनगर ग्रामीण व व्यापार मंडल मजबूरीवस एनसीएल दूधिचुआ से निकलने वाले कोयला परिवहन को पूर्ण रूप से बाधित करेंगे।

रविवार को सायं अंबेडकर नगर पंचायत भवन कार्यालय पर ग्रामीणों ने एकत्रित होकर कोयला परिवहन से लगने वाले जाम व प्रदूषण के खिलाफ आवाज बुलंद करते हुए बड़ा आंदोलन करने की चेतावनी दी।

व्यापार मंडल अध्यक्ष मनोज गुप्ता ने कहा कि एनसीएल खड़िया के मूल विस्थापित गांव अंबेडकरनगर वासियों का जीना दूभर हो गया है और एनजीटी के नियमों को ताक पर रखकर एनसीएल प्रबंधन व ट्रांसपोर्टर ज्यादा मुनाफा कमाने के चक्कर में ग्रामीणों के जीवन के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। कई बार पत्रक के माध्यम से अवगत कराने के बाद भी एनसीएल अधिकारी अपनी हरकतों से बाज नहीं आते। अब अंबेडकरनगर के ग्रामीण व व्यापारी चुप नहीं बैठेंगे और हमारी मांगों पर जल्द विचार नहीं किया गया तो एनसीएल दूधिचुआ के कोयला परिवहन को पूर्ण रूप से बाधित किया जाएगा।

इस अवसर पर ग्राम पंचायत सदस्य सुरेश गुप्ता, भाजपा पिछड़ा प्रकोष्ठ मंडल अध्यक्ष अमरप्रकाश, राम प्रकाश पनिका, दिलीप सिंह, अनिल गुप्ता, रामवृक्ष कुशवाहा, अख्तर, शमशाद, प्रवीण सहित दर्जनों ग्रामीण व व्यापारी उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button