सोनभद्र

मानक से अत्यधिक ब्लास्टिंग की शिकायत को लेकर जांच करने पहुंची खान सुरक्षा महानिदेशालय की टीम मचा हड़कंप।

अशोक मद्धेशिया
संवाददाता
ओबरा/सोनभद्र । अ०द०एस के जिला उपाध्यक्ष महेश अग्रहरी को बिल्ली मारकुंडी के रहवासियों के द्वारा शिकायत मिली थी कि मानक से अत्यधिक ब्लास्टिंग के कारण उनका घर खराब हो रहा है। उनके पूरे जीवन की कमाई संपत्ति मकान में लगा है जिसको गंभीरता से लेते हुए ओबरा के आसपास के लोगों को अनियंत्रित ब्लास्टिंग से निजात दिलाने के लिए अपना दल एस के जिला उपाध्यक्ष एवं राष्ट्रीय नव निर्माण सेना के प्रदेश अध्यक्ष महेश अग्रहरी ने खान सुरक्षा महा- निदेशालय धनबाद को पत्र लिखा था जिस पर खान सुरक्षा महा- निदेशालय ने गंभीरता आवेदन पर गंभीरता पूर्वक लेते हुए डीजीएमएस वाराणसी (एसएस प्रसाद) जांच करने मौके पर आए और विश्वास दिलाया कि निश्चित रूप से जो गलत हो रहा है उसको रोका जाएगा और मानक से अत्यधिक ब्लास्टिंग को भी रोका जाएगा।जिसमे मौके पर अधिकारियो ने पहुंचकर कृष्णा माइनिंग स्टोन की जांच की।उक्त खदान मालिक के मौके पर पहुंचने पर शिकायतकर्ता महेश अग्रहरि की टीम के साथ नोक- झोंक भी हुई। हालाकि मौके पर मौजूद अधिकारियों द्वारा जायजा लेने के बाद मानक से सम्बंधित पूछताछ पर माइन्स के ज़िम्मेदारों के पास कोई जबाब नही मिला। मानक के विपरीत खदान संचालित होने पर अधिकारी ने नाराजगी जताई। कई सवाल पूछने के बाद भी खदान के जिम्मेदार लोग जवाब नही दे सके। बेंच बनाए जाने को लेकर भी अधिकारियों ने कड़ी नाराजगी जताई। अधिकारियों ने बिना सेफ्टी के मजदूरों को काम पर लगाए जाने की चीजे भी देखी। जिनका कोई भी संतोषजनक जवाब नहीं मिल सका। जहां डीजीएमएस के अधिकारी ने फटकार लगाई।और सेफ्टी को लेकर दिशा निर्देश देते हुए कई अहम सवालों को लेकर पूछ ताछ पर खनन कर्ता खामोश रहे। एक तरफ जहां मानक के विपरीत खदान चल रही है वहीं पास में ही सटे हुए रिहायसी इलाके जिनके घरों पर ब्लास्टिंग के दौरान पत्थर आने से उनके मकान क्षतिग्रस्त हो गए उनमें से कुछ लोगो ने मौके पर पहुंचकर अपनी शिकायत दर्ज कराई। जिनका कहना था की कई बार कहने के बावजूद यहां पर अनियंत्रित ब्लास्टिंग की जाती है जिससे उनके मकान क्षतिग्रस्त हो रहे है। इस बात को लेकर डीजीएमएस के अधिकारियों ने भी चिंता जताई और कहा कि यहां सुरक्षा के मानकों की अनदेखी कर खदाने नही चलाई जानी चाहिए।माइंस की सुरक्षा व्यवस्था में कोई भी कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। डीजीएमएस के निर्देशों का पालन करना जरूरी ही होगा। सुरक्षा व्यवस्था के पालन नहीं होने पर ही खदान में हादसे होते रहते है जिससे बेकसूर श्रमिको को जान जाती है। आसपास के रिहायशी इलाकों के रहने वाले लोगों की शिकायत को गंभीरता पूर्वक लेते हुए जांच अधिकारियों ने अपनी रिपोर्ट लगाने की बात कही है। मौके पर प्रदेश सचिव छात्र संघ रविन्द्र यादव प्रदेश, जिला महासचिव राधेश्याम भारती, शिब्बु शेख,जिला उपाध्यक्ष पंचायत मंच,शिवदत्त दुबे, जिला
उपाध्यक्ष राजकुमार यादव, शाहिद अली,युवा मंच दिनेश केसरी,रजनीश पांडे,कलामुद्दीन, रियाज खान,काजू खान,सूरज पासवान,पियूष गौड़ मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button