मध्यप्रदेशसिंगरौली

फरार चल रहे तीन स्थाई वारंटियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

वली अहमद  सिद्दीकी ,,सिंगरौली 

चोरी,लूट खतरनाक हथियार जैसे गंभीर अपराधो के 12 वर्षों से फरार,तीन गिरफ्तार

सिंगरौली पुलिस अधीक्षक तुषार कांत विद्यार्थी के निर्देशन में चलाये जा रहे फरार आरोपियो स्थाई वारंटियो की गिरफ्तारी हेतु अभियान के तहत आज मोरवा थाना प्रभारी मनीष त्रिपाठी को बड़ी सफलता मिली जब लंबे समय से फरार चल रहे तीन स्थाई वारंटियों को गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपियों के खिलाफ चोरी लूट, धारदार हथियार लेकर चलने का अपराध दर्ज है गिरफ्तारी के बाद पांच वर्ष से लेकर बारह वर्ष तक के तीन पुराने प्रकरणो का निकाल हो सकेगा तथा आरोपियों को सजा मिलेगी।शातिर अपराधी रामानुज साकेत निवासी सिगाही थाना माड़ा का मेढौली रोड में धारदार हथियार लेकर खडा है तथा कोई बड़ी घटना कारित कर पाता उसके पहले ही गिरफ्तार कर अप, क्रमांक. 443/08 के तहत जेल भेज दिया गया जो जमानत में छुटने के बाद से लगातार पकड़ में नहीं आ रहा था जिस कारण स्थाई वारंट जारी हुआ था जिसे आज गिरफ्तार किया गया। दूसरे मामले में फरियादी अजय कुमार ने थाना आकर रिपोर्ट दर्ज कराई कि निगाही खदान से रात्रि में अज्ञात चोरो ने कीमती सामान चोरी कर ले गये है जिसपर अज्ञात चोरो के खिलाफ अप. क्र.35/11 धारा 379 भा.द.वि. कायम कर चार लोगो को गिरफ्तार किया गया जिसमे आरोपी सिंगराम सिंह खैरवार निवासी मुहेर लगातार जमानत पर छूटने के बाद से पेशी पर अनुपस्थित रह रहा था जिसपर स्थाई वारंट जारी कर जिसे आज बंधौरा चौकी अंतगर्त सिगाही गांव से गिरफ्तार किया गया। तीसरे मामले में फरियादी रामचरण यादव निवासी कठास ने थाने आकर रिपोर्ट दर्ज कराया कि चार लोगो ने मिलकर उसके साथ मारपीट कर पच्चीस हजार कीमती सामान लूट ले गये है जिसपर थाना मोरवा में अप. क्र. 165/15 धारा 395 भा.द.वि. कायम कर तीन लोगो को गिरफ्तार किया था जिसमें सोहन गोंड लगातार पेशी में अनुपस्थित रह रहा था जिसे कल गिरफ्तार कर न्यायालय बैढ़न पेश किया जा रहा है उक्त कार्रवाई में उपनिरी. सुधाकर सिंह परिहार सउनि, साहबलाल सिंह परिहार प्र.आर. डी.एन. सिंह अरविन्द चौबे राजवर्धन सिंह आरक्षक संजय सिंह परिहार सुबोध सिंह रविदत्त पाण्डेय सुनील मिश्रा साथ ही चौकी प्रभारी बधौरा बालेन्द्र त्यागी विजय तिवारी शामिल थे।
=================================

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button