उत्तर प्रदेश

गोरखनाथ गौड़ प्रकरण मे मृतक के परिवार से माले के लोग मिले

गोरखनाथ गौड़ प्रकरण मे मृतक के परिवार से माले के लोग मिले

हत्या के 3 दिन बीत जाने के बाद भी अपराधी पकड़ से वाहर

दुद्धी(रवि सिंह)सोनभद्र:ग्राम पीपरडीह दुद्धी सोनभद्र के निवासी गोरखनाथ गौड़ के संदिग्ध स्थिति में खनन क्षेत्र में शव पाए जाने की पड़ताल में भाकपा (माले )के 3 सदस्य जांच टीम आज मृतक के परिजनों से मुलाकात कर हकीकत से रूबरू हुए , जांच टीम के मुखिया भाकपा माले के प्रदेश सचिव सुधाकर यादव ने कहा जनपद सोनभद्र के प्राकृतिक संपदा का करप्ट पॉलीटिशियन और अपराधी किस्म के लोग लूटने में लगे है । गाजियाबाद के बाद जनपद सोनभद्र जिला उत्तर प्रदेश का सर्वाधिक सरकार को राजस्व प्रदान करने वाला जिला है परंतु उम्भाकांड से प्रशासन सबक लेने की बजाय यहां के आदिवासियों का अधिकारों का दमन करने पर प्रशासन के लोग लगे हैं , विकास के नाम पर यहां के अति पिछड़े जिले में आदिवासियों के हिस्से कुपोषण बेरोजगारी और प्रदूषित पर्यावरण के कारण गंभीर रोग यहाँ के लोगो को हो रही हैं , खनन माफियाओं को संरक्षण दे रही योगी सरकार , आदिवासी गोरख गोंड की हत्या के 3 दिन बाद भी हत्यारे पुलिस की पकड़ से बाहर हैं साथ ही सोनभद्र में प्राकृतिक संपदा की बेरोकटोक लूट आदिवासियों की हत्या की जा रही हैं मृतक के परिजनों को ₹2000000 (बीस लाख )एवं परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी प्रदान करने की मांग भाकपा (माले ) ने किया है , ग्राम पकरी विंढमगंज नगवा बालू साईड पर राम सुंदर गौड़ की संदिग्ध मौत एवं पीपरडीह कोर्गी की बालू साइड पर गोरख गौड़ प्रकरण की उच्चस्तरीय न्यायिक जांच हो साथ ही परिजनों द्वारा ग्राम प्रधान पीपरडिह श्रवण कुमार का खनन क्षेत्र से धन उगाही और मृतक के संदिग्ध मौत के संबंधों की उच्च स्तरीय जांच हो , जांच टीम में सम्मिलित जिला प्रभारी शशिकांत कुशवाहा ने कहा कि ग्राम प्रधान की भूमिका संदिग्ध है और खनन क्षेत्र से संबंधों की जांच कर कार्रवाई हो और उत्तर प्रदेश और केंद्र सरकार को कमेटी अंतिम हद तक पीड़िता को न्याय दिलाने तक संघर्ष करेगी इस मौके पर राज्य कार्यकारिणी सदस्य बिगन राम गौड़ साथ में पी यू एच आरके सचिव प्रभु सिंह कुशवाहा रहे ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button