उत्तर प्रदेश

मड्पा हत्या कांड::पत्नी से अवैध संबंध के शक में चचेरे भाई को उतारा मौत के घाट

मड्पा हत्या कांड::पत्नी से अवैध संबंध के शक में चचेरे भाई को उतारा मौत के घाट, आरोपी गिरफ्तर

खलियारी(ओमप्रकाश जायसवाल)माची थाना क्षेत्र के मड्पा गांव में शनिवार को हुई हत्या के मामले में पुलिस ने आरोपी को गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया गिरफ्तार किए गए युवक ने स्वीकार किया कि पत्नी से अवैध संबंध के शक में चचेरे भाई को मौत के घाट उतारा पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त कुल्हाड़ी भी उसकी निशानदेही पर बरामद कर ली है शनिवार को माची थाना क्षेत्र के मड्पा गांव में दोपहर बाद राजेश यादव पुत्र कांता यादव की अज्ञात व्यक्ति द्वारा हत्या कर दी गई थी हत्या के बाद सूचना पर पहुंची पुलिस ने कई लोगों से पूछताछ की उसका रक्तरंजित शव उसके घर से लगभग 1 किलोमीटर दूर अरहर के खेत में मिला था घटना की सूचना मिलते ही अपर पुलिस अधीक्षक नक्सल डॉक्टर राजीव कुमार सिंह,अभिनव यादव समेत तमाम पुलिस के लोग बिहार से सटे गांव रात में ही पहुंच गए थे वहां मौजूद लोगों से पूछताछ के बाद पुलिस टीम लौट आई थी मृतक के पिता द्वारा माची थाने में अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी अगली सुबह पुलिस अधीक्षक अमरेंद्र कुमार सिंह ने भी मौके पर पहुंच कर घटनास्थल का निरीक्षण किया था और इस हत्या को चुनौती मानते हुए शीघ्र आरोपी को गिरफ्तार करने का निर्देश उनके द्वारा दिया गया था सीओ सदर, माची थाना प्रभारी मनोहर,एसओजी प्रभारी अमित त्रिपाठी,और स्क्वाट टीम प्रभारी सभी अपने अपने अस्तर से मामले के खुलासे में लग गए हत्या का कोई चश्मदीद नहीं था ऐसे में इसका खुलासा पुलिस के लिए चुनौती बना हुआ था पूछताछ के लिए पुलिस ने 1 दर्जन से अधिक लोगों को गांव अगल बगल से उठाया था इसके बावजूद भी कोई परिणाम सामने नजर नहीं आया अंततः पुलिस उपाधीक्षक ने अपना ध्यान परिवार के लोगों पर केंद्रित किया और फिर नए सिरे से जांच शुरू की पता चला कि राजेश की हत्या के बाद से ही उसके बड़े पिता लालता के छोटे लड़के बबुंदर की गतिविधियां संदिग्ध थी न तो घटनास्थल पर ही गया और नही जब परिजन सब लेकर अंत्य परीक्षण के जिला अस्पताल के लिए रवाना हुए तो वहां ही गया उसकी संदिग्ध गतिविधियों को देखते हुए जब पुलिस ने उस पर जांच केंद्र की और पूछताछ शुरू हुई तो उसने इस घटना में अपना हाथ होने से साफ इनकार कर दिया और गांव के कई लोगों को फसाने की नियत से उनकी गतिविधियों को संदिग्ध बताना शुरू कर दिया उसके बताने के बाद जब पूछताछ शुरू तो मामला निराशाजनक हाथ लगा इसके बाद पुलिस ने बबुंदर के साथ क्या थोड़ी सख्ती की तो उसने सारा राज उगल दिया पुलिस को दिया गया बयान में उसने बताया की हमें शक था की राजेश यादव का हमारी पत्नी से अवैध संबंध है हमारे न रहने पर वह हमारे घर में आया जाया करता था हम उसे काफी दिन से मारने की सोच रहे थे लेकिन उचित मौका नहीं मिल रहा था उस दिन राजेश जब अपने घर से खेत की तरफ निकला तो मैं पहाड़ी पर बैठकर उसे देख रहा था जैसे ही वह खेत की तरफ आगे बढ़ा मैं भी पहाड़ी से उतरना शुरू किया मैं अरहर के खेत में छिपकर उसे पीछे से कुल्हाड़ी से मारना चाहता था लेकिन वह मुझे देखकर समझ गया और भागने की कोशिश किया इस पर मैंने दौड़ा कर उसे पकड़ लिया और उसके सर पर कुल्हाड़ी से एक बार कर दिया है एक बार करते ही वह लड़का आया इस पर मैंने दूसरी कुल्हाड़ी चला दी उसके गिरते ही उसकी गर्दन पर वार करके उसे मौके पर ही समाप्त कर दिया उसके बाद पहाड़ी की तरफ चला गया उसकी इस स्वीकारोक्ति पर पुलिस हत्या में प्रयुक्त कुल्हाड़ी भी बरामद कर ली

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button