उत्तर प्रदेश

निजी सुरक्षा गार्डों पर आक्रामक हमला करने वाले आरोपी चढ़े बीजपुर पुलिस के हत्थे।

निजी सुरक्षा गार्डों पर आक्रामक हमला करने वाले आरोपी चढ़े बीजपुर पुलिस के हत्थे

मामला बीजपुर थानाक्षेत्र के ग्राम सभा डोडहर में बुधवार को कुछ ग्रामीणों द्वारा निजी सुरक्षा गार्डों व उनके मेडिकल हेतु आई चिकित्सकीय टीम के ऊपर किए गए हमले का

बीजपुर (बग्घा सिंह)सोनभद्र:स्थानीय थानाक्षेत्र के ग्राम सभा डोडहर के डायमण्ड क्लब भवन में बुधवार की सायं कुछ ग्रामीणों द्वारा भवन में शिफ्ट किए गए निजी सुरक्षा गार्डों व उनके मेडिकल परीक्षण हेतु आए हुए चिकित्सकीय टीम के सदस्यों के ऊपर किए गए आक्रामक हमले के सन्दर्भ में गुरुवार को बीजपुर पुलिस ने कुछ आरोपियों को दबिश देकर गिरफ्तार करने में अहम कामयाबी हाशिल की । गिरफ्तार आरोपियों को पुलिस ने आई पी सी की धारा 147,336, 323 व 427 के तहत गिरप्तार कर पूछ ताछ कर रही है।दोष की पुष्टि होने पर अग्रीम कार्रवाई कर कानून के हवाले किया जाएगा। ग्राम सभा डोडहर निवासी आरोपियो के नाम का खुलासा नही किया हैं। पुलिस ने यह कार्रवाई निजी सुरक्षा गार्ड के एस सिक्यूरिटी के इंचार्ज सौरभ चतुर्वेदी द्वारा दिए गए तहरीर के आधार पर विवेचना उपरांत की।

बीजपुर थाने के उप निरीक्षक जय प्रकाश श्रीवास्तव द्वारा मिली जानकारी के अनुसार एन टी पी सी रिहंद स्टेशन के कालोनी परिसर की सुरक्षा के लिए के एस सिक्यूरिटी का नया टेंडर जारी हुआ था। जिसके तहत उक्त सिक्यूरिटी कम्पनी के निजी सुरक्षा गार्डों को रिहंद परियोजना द्वारा बनवाए गए डायमंड क्लब के भवन में मेडिकल परीक्षण हेतु शिफ्ट करवाया था। निर्धारित योजना के तहत जवानों के मेडिकल जांच हेतु जनपद सोनभद्र से चिकित्सकीय टीम के सदस्य भी वहाँ पहुँच गए थे। इसी दौरान किसी ने अफवाह फैला दी कि डायमंड क्लब के भवन में कोरोना से सम्बंधित लोगों को रखा जा रहा है। अफवाह को सही मानकर कुछ आक्रोशित ग्रामीणों ने जवानों व चिकित्सको की टीम पर हमला कर दिया। हमले में उनके द्वारा किए गए पत्थरबाजी से जहाँ कई जवान घायल हो गए वहीं भवन की खिड़की व बाहर खड़े चारपहिया वाहनों के शीशे भी बुरी तरह छतिग्रस्त हो गए। सूचना पाकर रिहंद स्टेशन के उच्चाधिकारीगण, सी आई एस एफ व बीजपुर थाने के पुलिस बल के जवान मौके पर पहुँचकर वस्तुस्थिति से अवगत होते हुए उस पर काबू किया। घायल जवानों को इलाज के लिए धनवंतरी चिकित्सालय में ले जाया गया। जहाँ चिकित्सकों ने हल्की चोटें आने वाले जवानों को प्राथमिक उपचार के बाद छोड़ दिया। लेकिन चोट ज्यादा होने के कारण ज्वाला प्रसाद शाह, शीतल शरण व राजेन्द्र प्रसाद त्रिपाठी को इलाज के लिए चिकित्सालय में भर्ती कर लिया। बुधवार को ही सौरभ चतुर्वेदी की तहरीर पर पुलिस ने अज्ञात आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उनकी धर पकड़ शुरू कर दी थी। गुरुवार को आरोपी प्रकाश में आते ही पुलिस के हत्थे चढ़ गए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button