उत्तर प्रदेश

शाम ढलते ही लोग हो जाते है भयभीत

शाम ढलते ही लोग हो जाते है भयभीत  डाला(संवाददाता अनिल कुमार अग्रहरि)स्थानीय डाला बाजार का कुछ इलाका ऐसा है जहां रात होते ही अंधेरा व सन्नाटा पसर जाता है यहां कहने को तो अल्ट्राटेक द्वारा स्ट्रीट लाइट लगी है लेकिन वह लगने के कुछ ही हफ्तो बाद खराब हो गई रात में डाला शहीद स्थल, बाजार, बस्तियों की सड़क पर अंधेरा कायम हो जाता है जिसकी वजह से छोटे से बड़े दुकाने और बस्तियों की सुरक्षा दाव पर लगा रहता है अंधेरा होने के कारण दुकानों चोरी को लेकर दुकानदारों हमेशा आशंका बनी रहती है वहीं राहगीरों के साथ भी देर रात अनहोनी का डर भी बना रहता है क्योंकि डाला बाजार का ये क्षेत्र हीरोइन बाजो से भरा पड़ा है बताते चलें कि बाजार की सड़क पर रोशनी करने की जिम्मेदारी स्थानीय कम्पनी अल्ट्राटेक सीमेंट के द्वारा ली गई है जो बाजार के वाराणसी शक्तिनगर राजमार्ग के बीचो बीच डिवाइडर पर बने लगभग 25 स्ट्रीट लाइट के प्रकाश से जगमग कर दिया जिसका उद्घाटन बीते वर्ष अक्टूबर माह में व्यवस्थित तरीके से अल्ट्राटेक के अधिकारियों के साथ ही सदर विधायक द्वारा किया गया था वर्तमान में पोल में लगे स्ट्रीट लाइट शो पीस बनकर रह गया है स्थानीयों की माने तो कम्पनी के स्टाफ ,कर्मचारी ज्यादा तर कैम्पस में ही रहते है कम्पनी को सारा सामान अपने कैम्पस में ही उपलब्ध हो जा रहा है तो वे डाला के रहवाशियों पर क्यों ध्यान दें। ऐसे में इन्हें बाजार का अंधेरा नजर नही आता । स्थानीय व राहगीरों का कहना है कि कंपनी ने जब लाइट लगवाया था तो बड़ी खुशी हुई लेकिन महज कुछ सप्ताह बाद एक के बाद एक करके सभी स्ट्रीट लाइटें खराब होती चली गयीं । जिसे कंपनी द्वारा रिपेयर करने का भी प्रयास नहीं किया गया जबकि अधिकारियों का आना-जाना बाजार में तो होता है पर बाजार वालो की सुने तो कौन सुने। ऐसी दशा में कस्बावासियों ने इस ओर कंपनी के जिम्मेदार अधिकारियों का ध्यान आकृष्ट कराते हुए तत्काल स्ट्रीट लाइट ठीक कराने की मांग की है। इस वावत व्यपार मण्डल के अध्यक्ष मुकेश जैन ने बताया कि मेरी बात कम्पनी से हुई है इसे जल्द ही ठीक कराया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button