उत्तर प्रदेश

दवा ईलाज का बकाया राशि न देने पर निजी अस्पताल ने जच्चा-बच्चा को बनाया एक माह से बंधक

दवा ईलाज का बकाया राशि न देने पर निजी अस्पताल ने जच्चा-बच्चा को बनाया एक माह से बंधक

सोनभभद्र(उमेश कुमार सिंह)रावर्ट्सगंज नगर में स्थित एक निजी चिकित्सालय में बिल का भुगतान न करने पर जच्चा व बच्चा को बंधक बनाने का मामला रविवार को एक ट्वीट के माध्यम से खुला तो पुलिस प्रसाशन व निजी चिकित्साल में हड़कंप मच गया अनपरा थाना क्षेत्र के डिबुलगंज निवासी मूर्ति देवी पत्नी स्व दुर्गा प्रसाद खरवार ने जिलाधिकारी सोनभद्र को 10 अगस्त 2020 लिखित पत्र देने के बावजूद कोई सुनवाई नही होने पर निराश हुई पीड़िता की माँ का कहना है कि नंदनी के पेट मे काफी दर्द होने से मैक्स डायग्नोस्टिक सेंटर औड़ी मोड़ लायी थी सेंटर वालो ने उन्हें अपने कमीशन के चक्कर मे बहला फुसलाकर आदिवासी महिला को सस्ता सुविस्ता में प्रशव कराने के लिए कहकर एक निजी चिकित्सालय सदर में भर्ती करा कर भाग निकला 21जुलाई 2020 को नंदनी ने एक बेटी को जन्म दिया 27 जुलाई को अवमुक्त करने से पहले चिकित्सालय

प्रबंधन के द्वारा रुपये 67000 हजार का बिल पकड़ा दिया जिसे देख वह महिला आश्चर्य चकित हो गयीं बहुत प्रयास के बाद महिला चौदह हजार रुपये मात्र जमा कर सकी जिससे नाराज चिकित्सालय प्रबंधक ने उसकी पुत्री नंदनी व नवजात को बंधक बना लिया मौजूदा समय मे उसकी पुत्री चिकित्सालय में बंधक के रूप में पड़ी है ट्वीट से राज खुलने से पुलिस महकमा में हड़कम्प मच गया सदर कोतवाली प्रभारी निरीक्षक अंजनी राय ने चिकित्सालय पहुच कर मामले की जाँच पड़ताल सुरु कर दिये खबर प्रकाशित होने के बाद सोर्ड संस्था के अध्यक्ष रीना सिंह व समाजसेवी आशीष मिश्रा ने इस पूरे प्रकरण में बात कर मूर्ति देवी से उसकी बेटी व नवजात को तत्काल जिलाधकारी से बात कर बंधक से मुक्त कराने का आश्वासन दिया

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button