उत्तर प्रदेश

पूर्व जिला पंचायत सदस्य मुन्ना धांगर की गिरफ्तारी की आईपीएफ ने की निंदा

पूर्व जिला पंचायत सदस्य मुन्ना धांगर की गिरफ्तारी की आईपीएफ ने की निंदा

राजनीतिक प्रतिशोध की भावना से की गई है मुन्ना की गिरफ्तारी

अनपरा (उमेश कुमार सिंह)सोनभद्र, 5 सितंबर 2020, पूर्व जिला पंचायत सदस्य और राबर्ट्सगंज विधानसभा से प्रत्याशी रहे मुन्ना धांगर की आज रामपुर बरकोनिया पुलिस द्वारा की गई गिरफ्तारी की कड़ी निंदा ऑल इंडिया पीपुल्स फ्रंट ने की है. प्रेस को जारी बयान में ऑल इंडिया पीपुल्स फ्रंट के नेता दिनकर कपूर ने कहा कि ग्राम सभा सिलथम में कई दिनों से कबड्डी की प्रतियोगिता बच्चों द्वारा की जा रही थी. जिसमें कोरोना महामारी के लिए बनाए हुए नियमों का पालन करते हुए आज पुरस्कार वितरण के मुख्य अतिथि के बतौर मुन्ना धांगर गए थे. जहां राजनीतिक द्वेषवश पुलिस द्वारा उनको गिरफ्तार किया है.

उन्होंने कहा कि एक तरफ जनपद में उस समय जब कोरोना के कारण लॉकडाउन चल रहा था भाजपा के मंत्री वर्चुअल ढंग से बैठकों को संबोधित कर रहे थे और गांव-गांव एलसीडी लगाकर जनता को जुटाकर मंत्रियों की बातों को सुनाया जा रहा था. यही नहीं प्रधानमंत्री की मन की बात लोगों को जुटाकर भाजपा नेताओं द्वारा सुनाई जा रही है. उनके ऊपर कोई कार्यवाही आज तक पुलिस और प्रशासन ने नहीं की. वही धांगर जाति के अधिकार का सवाल उठाने के कारण मुन्ना धांगर भारतीय जनता पार्टी और आरएसएस के निशाने पर बने हुए हैं और यह कार्यवाही भी दरअसल उत्पीड़न और उनके आवाज को दबाने की कोशिश है, जो भाजपा के राज्यसभा सांसद के इशारे पर की गयी है.

उन्होंने कहा कि मुन्ना धनगर आदिवासी और दलित समाज में बेहद सम्मानित नेता हैं और उनके साथ यदि कोई भी दुर्व्यवहार हुआ या उनका उत्पीड़न हुआ तो ऑल इंडिया पीपुल्स फ्रंट इस पर अपना प्रतिवाद दर्ज कराएगा

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button