उत्तर प्रदेश

मगरमच्छ ने तालाब में डाला डेरा ,ग्रामीण दहशत में

मगरमच्छ ने तालाब में डाला डेरा ,ग्रामीण दहशत में

खलियारी (ओम प्रकाश जायसवाल)रामपुर बरकोनियां थाना अंतर्गत सिलथम गांव से पूरब नरसों बंधी के ठीक नीचे पश्चिम तरफ जहीर खान के तालाब में बीते लगभग 2 माह से डेरा डाले मगरमच्छ को सूचना पर पहुंची वन विभाग पटना व रामपुर बरकोनियां पुलिस की मौजूदगी में बाहर से बुलाए गए मल्लाहों द्वारा जाल आदि डालकर पकड़ने का असफल प्रयास किया गया। बताया गया कि जहीर खान के निजी तालाब में बीते लगभग 2 माह से मगरमच्छ कहीं से आ गया । तालाब स्वामी को पता तब चला लगभग 1 सप्ताह पूर्व दोपहर में तालाब के ही बगल में घर के पास चर रही बकरी को खींच कर वह तालाब में ले जाने लगा। तब उनकी नजर उस पर पड़ी। जिसकी सूचना उन्होंने वन विभाग पटना के अधिकारी व पुलिस प्रशासन को दिया। सूचना पर तालाब को दो-तीन दिन पूर्व से साफ सफाई करा कर गुरुवार को दोपहर लगभग 12:00 बजे पटना वन विभाग के वन क्षेत्राधिकारी मुन्ना लाल सिंह, डिप्टी रेंजर अमित कुमार श्रीवास्तव ,वन दरोगा प्रेमनाथ मौर्य वन कर्मियों व बाहर से बुलाए गए मल्लाहों की टीम के साथ उसे पकड़ने हेतु पुलिस बल की मौजूदगी में पहुंचे।

जाल फेंक कर तीसरे प्रयास में मगरमच्छ उसमें फंस गया परंतु निकाले जाते समय जाल से छूट कर पुनः तालाब में चला गया। लगभग 4 घंटे कड़ी मशक्कत के पश्चात सभी लोग पुनः शुक्रवार को उसे पकड़ने हेतु आने की बात कही। इस दौरान तमाशबीनों की भीड़ भी लगी रही। वन क्षेत्राधिकारी मुन्ना लाल सिंह ने बताया कि मगरमच्छ लगभग 8 फीट लंबा है हो सकता है वह घाघर नदी से निकल इधर आ गया हो । तालाब स्वामी ने बताया कि मेरे निजी तालाब में मेरे द्वारा मत्स्य पालन भी किया गया है जिसमें वह मछलियों को भी खा गया और मेरे तीन बत्तख व एक बकरी को भी खा चुका है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button