उत्तर प्रदेश

नहीं रुक रहा है सोन नदी सेंचुरी एरिया से अवैध बालू खनन खनन माफियाओं के हौसले बुलंद स्थानीय वन प्रशासन सुस्त

नहीं रुक रहा है सोन नदी सेंचुरी एरिया से अवैध बालू खनन खनन माफियाओं के हौसले बुलंद स्थानीय वन प्रशासन सुस्त

चोपन (संवाददाताअशोक मद्धेशिया)उत्तर प्रदेश के लोकप्रिय मुख्यमंत्री जी के आदेशों को ठेंगा दिखाते हुए सोन नदी सेंचुरी एरिया वन सीमा के अंतर्गत सोन नदी इंटेक, वर्दिया सिंदुरिया वन सीमा सोन नदी से प्रतिदिन रात्रि से लेकर 6:00 बजे तक और कभी-कभी दोपहर में रिपोर्ट ट्रैक्टर से लगभग 200 गाड़ी अवैध बालू का खनन व बिक्री का काम बालू माफियाओं द्वारा किया था स्थानीय प्रशासन इसे रोकने में पूर्ण रूप से या तो विफल है या वह रोकना नहीं चाहता है सूत्रों की माने तो इस अवैध बालू खनन में हर एरिया के बीट इंचार्ज दरोगा की मिलीभगत है और बदले में बालू माफियाओं द्वारा इनको हर महा मोटी रकम दी जाती है यदि कोई बाहरी व्यक्ति इन बालू माफियाओं का विरोध करता है तो उसे डरा धमका कर चुप कर दिया जाता है और कहा जाता है कि प्रशासन नहीं हो या काम प्रशासन का है जब प्रशासन रुकेगी तब हम निपट लेंगे तुम्हारे चिल्लाने से कुछ नहीं होने वाला है सब सेटिंग है और सेटिंग के तहत या काम हो रहा है इन बालू माफियाओं के अवैध बालू खनन से प्रतिदिन लगभग लाखों रुपए के राजस्व की हानि है इस संदर्भ में कई बार समाचार पत्रों में समाचार निकला है डाला रेंज वन प्रशासन इन्हें रोकने में पूर्ण रूप से निष्क्रिय हैं इस प्रकरण पर वन विभाग के उच्च

अधिकारियों को गंभीरता से ध्यान देते हुए अवैध बालू खनन की गहराई से जांच करा कर दोषी वन कर्मियों को दंडित करने वह बालू माफियाओं को जेल भेजने की अत्यंत आवश्यक है सभी राजस्व में हो रहे इस अवैध बालू खनन से और नुकसान को रोका जा सकता है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button